Tuesday, November 30, 2021

गोदाम में अनाज भंडारण की जगह नहीं, बारिश से बढ़ी मुश्किल, उपज सुरक्षित करने छूट रहा पसीना

Share on whatsapp
WhatsApp
Share on facebook
Facebook
Share on twitter
Twitter
Share on telegram
Telegram

रीवा. जिले में केन्द्र से लेकर गोदाम तक अनाज भंडारण की व्यवस्था बेपटरी हो गई है। इस बार लक्ष्य से ज्यादा तौल होने से गोदामों में भंडारण की जगह नहीं है। जिससे केन्द्रों पर बारिश के कारण केन्द्रों पर गेहूं के रखरखाव की अव्यवस्था हो गई है। बारिश के चलते बीते दो दिन तौल भी स्थगित कर दी गई है। प्रत्येक केन्द्र पर तौल के लिए औसत 10-15 किसान इंतजार कर रहे हैं।

खरीद केन्द्रों पर लडख़इड़ाई व्यवस्था
जिले में बारिश के चलते एक बार फिर खरीद केन्द्रों पर व्यवस्था चरमरा गई। केन्द्र पर रखे उपज को लेकर किसानों की मुश्किलें कम नहीं हो रही हैं। गोदाम में जगह नहीं होने के कारण केन्द्रों पर 2.88 लाख क्विंटल गेहूं को सुरक्षित करने में जिम्मेदारों का पसीना छूट रहा है। जिले में चालीस से अधिक केन्द्रों पर अभी भी पचास फीसदी गेहूं डंप है। जिला प्रशासन की चेतावनी के बाद भी परिहवन की प्रगति नहीं बढ रही है। जिससे केन्द्र की व्यवस्था लडखड़ाने से किसान परेशान हो रहे हैं। परिवहनकर्ताओं का रसूख इस कदर है कि नोटिस देकर अधिकारी इतिश्री कर रहे हैं।

केन्द्रों पर रखा 2.88 लाख क्विंटन गेहूं
जिले में परिवहनकर्ताओं की शिथिलता के चलते शुक्रवार की देरशाम तक खरीद केन्द्रों पर 2.88 लाख क्विंटल गेहूं का परिवहन नहीं हो सका है। कलेक्टर ने परिवहनकर्ताओं की नकेल कसी है। बावजूद इसके प्रगति नहीं बढ रही है। जिम्मेदार एक दूसरे पर ठीकरा फोड रहे हैं। रीवा हुजूर में परिवहनकर्ता देवेश कुमार मिश्रा और मऊगंज में जयभवनी ट्रांसपोर्ट की शिथितलता के चलते केन्द्रों पर गेहूं खराब हो रहा है। रीवा सेक्टर में सबसे अधिक 2.51 लाख क्विंटल गेहूं का परिवहन बाकी है।

from Patrika : India’s Leading Hindi News Portal https://ift.tt/3fWKNwu
https://ift.tt/3yOQkxO

close