Sunday, December 5, 2021

पुलिस लाइन में बनेगा 16 बिस्तरों का ऑक्सीजन सुविधा युक्त अस्पताल

Share on whatsapp
WhatsApp
Share on facebook
Facebook
Share on twitter
Twitter
Share on telegram
Telegram

रीवा। कोरोना की तीसरी लहर से निपटने के लिए ने कमर कस ली है। विभाग अब पुलिसकर्मियों के लिए सर्वसुविधायुक्तअस्पताल पुलिस लाइन में बनवा रहा हैं जिसका लाभ पुलिसकमिज़्यों व उनके परिवार के सदस्यों को मिलेगा। आने वाले दो-तीन दिनों में यह अस्पताल बनकर तैयार हो जाएगा।

सामुदायिक भवन में चल रही तैयारी
पुलिस लाइन के सामुदायिक भवन मैं अस्पताल संचालित होगा जिसमें विभाग आवश्यक व्यवस्थाएं सुनिश्चित करवाने में लगा है। दरअसल सामुदायिक भवन में 16 बिस्तरों का सर्वसुविधायुक्त अस्पताल बनेगा जिसमें ऑक्सीजन के सुविधा उपलब्ध रहेगी। इसके साथ ही यहां पर दवाइयां उपकरण के अलावा चिकित्सक सहित स्टाफ मौजूद रहेगा जिसमें गंभीर रूप से बीमार पुलिसकर्मियों का उपचार होगा। पुलिस अधिकारी फिलहाल यहां व्यवस्थाएं सुनिश्चित करवाने में लगे है। पूरे परिसर को साफ सुथरा कर बेड़ तैयार करवाए जा रहे हैं।

सोशल डिस्टेसिंग का ध्यान
सभी बेड अलग अलग लगाए जाएंगे ताकि कोई मरीज दूसरे के संपर्क में न रहे और उन्हें समुचित इलाज मुहैया कराया जा सके। यहां पर ऑक्सीजन सिलेंडर भी पर्याप्त मात्रा में रखवाये जाएंगे ताकि मरीजों का समुचित उपचार मिल सके। जल्द सामुदायिक भवन में सारी व्यवस्थाएं सुनिश्चित करवा करवा ली जायेगी।

एसपी ने किया अस्पताल का निरीक्षण
सामुदायिक भवन में बन रहे उक्त अस्पताल का पुलिस अधीक्षक राकेश कुमार सिंह ने निरीक्षण किया और व्यवस्थाओं की जानकारी ली। उन्होंने विभाग द्वारा करवाई जा रही व्यवस्थाओं की जानकारी लेकर आवश्यक निर्देश दिये। उन्होंने सारी व्यवस्थाएं उपलब्ध करवाने के निर्देश दिये है ताकि भर्ती मरीजों को किसी तरह की दिक्कत न हो। उन्होंने कहा कि सभी पुलिसकर्मी कोरोना संक्रमण को देखते हुए सुरक्षित रहते हुए ड्यूटी करें और संक्रमण की स्थिति में तत्काल अपनी जांच करवाकर इलाज करवाए।

हत्या के आरोपी के संपर्क में आया पुलिसकर्मी संक्रमित
सिरमौर थाने में पुलिस द्वारा पकड़े गए हत्या के आरोपी के कोरोना पाजटिव निकलने के बाद उसके संपर्क में आए आरक्षक की जांच कराई गई थी जिनकी रिपोर्ट पाजटिव आई है। वे आरोपियों को न्यायालय में पेश करने और जेल दाखिल करने के लिए लेकर गए थे। कुछ अन्य कर्मचारियों की भी जांच कराई जा रही है जिनको फिलहाल अहतियात बरतने के निर्देश दिये गये है।

आईसुलशेन वार्ड में 50 पुलिसकर्मियों का हुआ इलाज, पांच पीडि़त
पुलिस विभाग द्वारा पुलिस लाइन में बनवाए गए आईसुलेशन वार्ड में अभी तक पचास पुलिसकर्मियों का इलाज हुआ है। वर्तमान समय में यहां चार संक्रमित कर्मचारी भर्र्ती है जिनका इलाज चिकित्सकों की देखरेख में चल रहा है। उक्त अस्पताल में तीन पुलिसकर्मियों के परिवार के सदस्यों का भी इलाज हुआ है जो कोरोना से संक्रमित हो चुके है। लगातार पुलिस कर्मचारी संक्रमित हो रहे थे जिनको समुचित इलाज मुहैया करवाने के उद्देश्य से यह आईसुलेशन वार्ड तैयार करवाया गया है जिसमें 20 मरीजों का उपचार करने की व्यवस्था है।

जिला कलेक्टर ने उपलब्ध कराए संसाधन
पुलिस लाइन में आक्सीजन सुविधायुक्त अस्पताल शुरू करवाने के लिए जिला कलेक्टर इलैया राजा टी ने पुलिस विभाग की मदद की है और उन्होंने आक्सीजन सुविधा सहित अन्य संसाधन विभाग को मुहैया करवाए ताकि कोरोना संक्रमण से बचाने के लिए ड्यूटी करने वाले पुलिसकर्मियों को इसका लाभ मिल सके और वे बिना किसी चिंता के इलाज अपनी ड्यूटी करें।

पुलिसकर्मियों में बढ़े आत्म विश्वास
पुलिस लाइन के सामुदायिक भवन में आक्सीजन सुविधायुक्त अस्पताल तैयार करवाया जा रहा है जिसमें 16 बेड मौजूद होंगे। गंभीर रूप से पीडि़त मरीजों का यहां इलाज होगा जबकि सामान्य मरीजों का इलाज आईसुलेशन वार्ड में होगा। आने वाले कुछ दिनों में उक्त अस्पताल बनकर तैयार हो जायेगा। अस्पताल में मरीजों की संख्या कम करने और पुलिसकर्मियों में आत्म विश्वास का संचार करने के लिए अस्पताल की व्यवस्था कराई जा रही है।
राकेश कुमार सिंह, एसपी रीवा

from Patrika : India’s Leading Hindi News Portal https://ift.tt/3yh057N
https://ift.tt/3yfVBhE

close