Sunday, December 5, 2021

पेयजल संकट : 84 नलजल परियोजनाएं बंद, पंचायतों में जनता का सूख रहा कंठ

Share on whatsapp
WhatsApp
Share on facebook
Facebook
Share on twitter
Twitter
Share on telegram
Telegram

रीवा. पंचायत एवं ग्रामीण विकास और लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग के बीच खींचतान के चलते जनता का कंठ सूख रहा है। लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग की ओर से पंचायतों में स्थापित की गई अधिकतर नलजल परियोजनाएं बंद हो गई हैं। जिससे सैकड़ो गांवों में पेयजल के लिए हाहाकार मचा है।

रीवा जान में 60 पंचायतों की योजनाएं खराब
लोक स्वास्थ्य यांत्रिक विभाग ने जिला समन्वय समिति की बैठक में जानकारी दी है कि पेयजल संकट से निपटने के लिए जिले को दो जोन में बांटा गया है। पहला रीवा जोन और दूसरा मऊगंज। रीवा जोन में पांच ब्लाकों के 60 पंचायतों में नलजल परियोजनाएं मोटर पंप जलने व पाइप लाइन क्षतिग्रस्त होने से करोड़ों की परियोजनाएं कबाड़ हो रही है।

मऊगंज में 24 पंचायतों में करोड़ों की योजना बेमानी
मऊगंज के 24 पंचातयों में लाखों रुपए की नलजल परियोजना पूरी तरह ध्वस्त हो गई है। पंचायत अमला और पीएचई विभाग एक दूसरे पर लापरवाही का ठीकरा फोड़ रहा है। पेयजल व्यवस्था पर हर माह लाखों करोड़ रुपए पानी में बहाया जा रहा है। बावजूद इसके सैकड़ो पंचायतों में पेयजल संकट से जनता जूझ रही है।

नईगढ़ी के 5 पंचायतें चालू नहीं कर रहीं परियोजना
पीएचई के अफसरों ने समन्वय समिति के अफसरों को लिस्ट देकर जानकारी दी है कि नईगढ़ी जनपद क्षेत्र के पांच पंचायतें परियोजनाएं चालू नहीं कर रहीं हैं। मडऩा, शिवराजपुर, सेंगरवार में पंचायतों परियोजना को चालू नहीं कर रही हैं। जबकि इसी ब्लाक के मौहरिया और जुड़मनिया रघुनाथ गांव में बिजली कनेक्शन के चक्कर में लाखों की परियोजना बंद पड़ी है।

सिरमौर में 18 पंचायतों की जली मोटर पंप
सिरमौर जनपद क्षेत्र के 18 ग्राम पंचायतों में नलजल परियोजना की मोटर पंप जल गई हैं। गर्मी के शुरुआत में ही इन गांवों में पानी के लिए हाहाकार मचा है। लिस्ट के अनुसार सिरमौर के पल्हान, बधरा, लेल्ही, हटवा, जामू, मौहरा, दुबगवां, बगढ़ा दूबे, उमरी, झलवार, बरौं समेत 18 गांव में पेयजल का संकट है। अधिकतर पंप खराब हो गए हैं। कइयो की पाइपलाइन क्षतिग्रस्त पड़ी है।

फैक्ट फाइल
कुल नलजल परियोजनाओं की संख्या–377
बंद पड़ी नलजल परियोजनाओं की संख्या–84
पाइप लाइन क्षगितग्रस्त होने से 63
मोटर पंप खराबी से 18
जलस्रोत अफसल होने से–3

close