Monday, November 29, 2021

बीहर रिवरफ्रंट निर्माण के लिए सप्ताह भर के लिए बाणसागर का पानी बंद, बिजली उत्पादन ठप रहेगा

Share on whatsapp
WhatsApp
Share on facebook
Facebook
Share on twitter
Twitter
Share on telegram
Telegram

रीवा। शहर में बीहर नदी में बनाए जा रहे रिवरफ्रंट निर्माण के लिए नदी का पानी रोका जाएगा। इसमें आगामी एक सप्ताह तक बाणसागर बांध से आने वाला पानी बंद किया गया है। जरूरत पड़ी तो इसकी अवधि और भी बढ़ाई जा सकती है।

इस बीच नदी में पानी की आवक बंद होने से सिरमौर, सिलपरा के साथ झिन्ना की बिजली उत्पादन इकाइयां भी बंद रहेंगी। साथ ही रीवा शहर में नदी के पानी से होने वाली पेयजल आपूर्ति के बाधित होने की भी आशंका है। एमपी पॉवर जनरेटिंग कंपनी ने इस आशय का पत्र भी संबंधित कार्यालयों को भेजा है।

बताया गया है कि शहर में बीहर नदी में बाबा घाट से लेकर राजघाट तक करीब डेढ़ किलोमीटर से अधिक दूरी तक नदी रिवरफ्रंट का निर्माण कराया जा रहा है। इसके लिए कई जगह पर नदी में पानी की वजह से निर्माण कार्य में समस्या हो रही है। पहले भी कई बार निर्माण एजेंसी हाउसिंग बोर्ड ने एमपी पॉवर जनरेटिंग कंपनी को पत्र लिखकर बाणसागर बांध से आने वाले पानी को बंद करने की मांग की थी। जिसके चलते अब इस पर सहमति बन गई है।

– तीन जून तक नदी में बंद रहेगा पानी
एमपी पॉवर जनरेटिंग कंपनी के एडिशनल चीफ इंजीनियर टीएससी सिरमौर ने एमपीपीटीसीएल जबलपुर के चीफ इंजीनियर को पत्र लिखकर कहा है कि 28 मई से तीन जून २०२१ तक बीहर नदी में बाणसागर से आने वाला पानी बंद रहेगा। जिसकी वजह से बिजली उत्पादन इकाइयां भी ठप रहेंगी। इसकी सूचना संभागायुक्त, कलेक्टर, नगर निगम आयुक्त, चीफ इंजीनियर गंगा कछार, हाउसिंग बोर्ड अधिकारियों के साथ ही बिजली उत्पादन और सप्लाई से जुड़े तमाम कार्यालयों को सूचित किया गया है।

365 मेगावॉट क्षमता की उत्पादन इकाइयां भी बंद रहेंगी

बाणसागर बांध से बीहर नदी के रास्ते सिरमौर टोंस हाइडल कार्पोरेशन के प्लांट तक पानी जाता है। जिससे तीन स्थानों पर बिजली का उत्पादन होता है। बांध का पानी बंद होने से तीनों स्थानों की उत्पादन इकाइयां बंद रहेंगी। जिसमें झिन्ना में दस-दस मेगावॉट की दो इकाइयां, सिलपरा में 15-15 मेगावॉट की दो इकाइयां और सिरमौर में 105-105 मेगावॉट क्षमता की तीन इकाइयों में बिजली का उत्पादन होता है। बांध का पानी बंद होने से तीन स्थानों पर 365 मेगावॉट का बिजली का उत्पादन नहीं होगा।
—-
शहर में जलापूर्ति भी होगी बाधित
बीहर नदी में आने वाले बाणसागर बांध के पानी की वजह से रीवा शहर में पेयजल की आपूर्ति की जाती है। नगर निगम ने कुठुलिया, रानीतालाब एवं अजगरहा में कुल 58 एमएलडी क्षमता के वाटर फिल्टर स्थापित कर रखा है। नदी में पानी बंद होने से तीनों स्थानों पर पानी की समस्या हो जाएगी, जिसके चलते रीवा शहर में जलापूर्ति बाधित होगी। निगम के अधिकारियों की मानें तो दो दिन तक फिल्टर प्लांटों के पास इंटक वेल के पास पानी की उपलब्धता रहेगी, इसलिए आखिरी के कुछ दिन जरूर संकट में रहेंगे। जिसके लिए वैकल्पिक व्यवस्था की जा रही है।

25 करोड़ की लागत से बन रहा रिवरफ्रंट
एमपी हाउसिंग बोर्ड ने पुनर्घनत्वीकरण योजना के तहत 50.32 करोड़ रुपए की लागत से निर्माण कार्यों की शहर में शुरुआत कराई है। इसके बदले बिडर को 56.36 करोड़ रुपए की शासन ने सरकार भूमि दी है। उक्त प्रोजेक्ट में २५ करोड़ रुपए की लागत का प्रोजेक्ट अकेले का बीहर रिवरफं्रट का है। जिसमें 1.6 किलोमीटर लंबाई का रिवरफ्रंट बाबा घाट से लेकर राजघाट तक बीहर नदी के किनारे बनाया जा रहा है। इसमें पचमठा आश्रम में सौंदर्यीकरण कार्य के साथ ही घोघर में भूमि के मुआवजे की मांग के बाद प्रोजेक्ट की राशि बढ़ाने की भी मांग की गई है।
—————

रिवरफ्रंट का निर्माण कार्य चल रहा है। जिसके लिए बीहर नदी का पानी खाली कराना होगा। इस संबंध में एमपी पॉवर जनरेटिंग कंपनी से मांग की है कि सप्ताह भर के लिए पानी रोकें ताकि निर्माण ठीक तरीके से किया जा सके।
अनुज प्रताप सिंह, कार्यपालन यंत्री हाउसिंग बोर्ड रीवा
———-


एमपी पॉवर जनरेटिंग कंपनी का पत्र आया है कि बीहर नदी में रिवरफ्रंट के चलते बाणसागर का पानी रोका जा रहा है। नदी के पानी से शहर में पेयजल की आपूर्ति की जाती है। फिलहाल हमारा प्रयास होगा कि शहर में पानी की समस्या नहीं आने पाए।
एसके चतुर्वेदी, कार्यपालन यंत्री नगर निगम रीवा

from Patrika : India’s Leading Hindi News Portal https://ift.tt/34zEmKx
https://ift.tt/3fWd46n

close