Tuesday, November 30, 2021

होम आइसोलेशन रोगियों की नियमित तथा सघन करें मॉनीटरिंग : कलेक्टर

Share on whatsapp
WhatsApp
Share on facebook
Facebook
Share on twitter
Twitter
Share on telegram
Telegram
होम आइसोलेशन रोगियों की नियमित तथा सघन करें मॉनीटरिंग : कलेक्टर 
कलेक्ट्रेट सभागार में आयोजित बैठक में कलेक्टर डॉ. इलैयाराजा टी ने नोडल अधिकारियों को होम आइसोलेशन के रोगियों की सघन मॉनीटरिंग के निर्देश दिए। कलेक्टर ने कहा कि कोरोना का संकट जिले के लिए असाधारण परिस्थिति है*
रीवा
कलेक्ट्रेट सभागार में आयोजित बैठक में कलेक्टर डॉ. इलैयाराजा टी ने नोडल अधिकारियों को होम आइसोलेशन के रोगियों की सघन मॉनीटरिंग के निर्देश दिए। कलेक्टर ने कहा कि कोरोना का संकट जिले के लिए असाधारण परिस्थिति है। इस समय हमारा एकमात्र उद्देश्य कोरोना संक्रमण को रोकना तथा कोरोना पीड़ितों को समय पर उचित उपचार उपलब्ध कराना है। जिले के अधिकारियों की टीम बहुत अच्छा कार्य कर रही है। अधिकारी इस संकट को चुनौती मानकर पूरी जिम्मेदारी से सौंपे गए कार्य करें। जिले के डॉक्टर तथा अन्य मेडिकल कर्मचारी कठिन परिस्थितियों तथा कोरोना के संक्रमण के खतरे के बीच पीपीई किट पहनकर भीषण गर्मी झेलते हुए कोरोना वार्ड में भर्ती रोगियों की सेवा कर रहे हैं। हर अधिकारी सेवा और समर्पण भाव से कार्य करे।
उपलब्ध कराए मेडिकल किट
रीवा नगर निगम के 45 वार्डों में तैनात 45 जिला स्तरीय अधिकारियों को निर्देश देते हुए कलेक्टर ने कहा कि कोरोना टेस्ट में पॉजिटिव आने वाले रोगी को तत्काल मेडिकल किट उपलब्ध कराए। मेडिकल किट की व्यवस्था मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी करें। इनका वितरण शहरी क्षेत्र में नगरीय निकाय तथा ग्रामीण क्षेत्र में ग्रामीण विकास विभाग द्वारा किया जाएगा। नगर निगम आयुक्त सभी नोडल अधिकारियों को प्रतिदिन कोरोना संक्रमितों की वार्डवार संख्या के अनुसार किट उपलब्ध कराए। किट वितरण की गूगल शीट तथा सार्थक एप के माध्यम से निगरानी करें। सभी मुख्य नगर पालिका अधिकारी भी अपने-अपने नगरीय निकायों में कोरोना पीड़ितों को मेडिकल किट वितरण की वार्डवार व्यवस्था करें।
नियमित करें समीक्षा
कलेक्टर ने कहा कि जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी प्रत्येक ग्राम पंचायत में होम आइसोलेशन के कोरोना पीड़ितों को मेडिकल किट का वितरण जनपद के मुख्य कार्यपालन अधिकारी तथा आशा कार्यकर्ता के माध्यम से कराए। जनपदों को बीएमओ ग्रामवार सूची के अनुसार मेडिकल किट उपलब्ध करायेंगे। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी नगरीय निकायों तथा बीएमओ को मेडिकल किट पर्याप्त मात्रा में उपलब्ध करायें। प्रत्येक फीवर क्लीनिक में पर्याप्त संख्या में मेडिकल किट उपलब्ध रहे फीवर क्लीनिक में रैपिड किट से जांच करने पर रोगी के पॉजिटिव पाये जाने पर तत्काल उसे मेडिकल किट प्रदान करें। लैब से नमूने की जांच रिपोर्ट आने पर रोगी को तत्काल किट उपलब्ध करायें। इसकी जानकारी प्रतिदिन गूगल शीट में दर्ज कराए जानकारी दर्ज कराने के लिए पटवारी तथा शिक्षकों की डयूटी लगाए। सभी एसडीएम किट वितरण की नियमित समीक्षा करें।
रोगियों की हो निगरानी
बैठक में कलेक्टर ने कहा कि होम आइसोलेशन में रह रहे रोगियों की निगरानी तथा उनसे सतत सम्पर्क रखना आवश्यक है। यदि कोई रोगी गंभीर होता है तो तत्काल उसे अस्पताल में भर्ती कराए केवल निरंतर मॉनीटरिंग से भी कई कठिनाईयां हल हो जाएगी। कलेक्टर ने कोरोना वैक्सीन के टीकाकरण, मास्क लगाने के लिए लोगों को प्रेरित करने तथा आवश्यक वस्तुओं की आपूर्ति के संबंध में अधिकारियों को निर्देश दिये। बैठक में आयुक्त नगर निगम मृणाल मीणा, एडीएम इला तिवारी, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. एमएल गुप्ता तथा सभी नोडल अधिकारी उपस्थित रहे।
close