Monday, November 29, 2021

रजनीकांत को दादा साहेब फाल्के पुरस्कार कंगना और मनोज वाजपेयी चुने गए सर्वश्रेष्ठ अभिनेत्री-अभिनेता

Share on whatsapp
WhatsApp
Share on facebook
Facebook
Share on twitter
Twitter
Share on telegram
Telegram

25 अक्टूबर (वार्ता) मशहूर अभिनेता रजनीकांत को सिनेमा क्षेत्र में उनके अभूतपूर्व योगदान के लिए दादा साहेब फाल्के पुरस्कार से सम्मानित किया गया है. उपराष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू और सूचना एवं प्रसारण मंत्री अनुराग ठाकुर ने सोमवार को यहाँ अभिनेता रजनीकांत को 67 वें राष्ट्रीय फ़िल्म पुरस्कार समारोह 2019 में सिनेमा जगत के सर्वोच्च

सम्मान से नवाजा. सर्वश्रेष्ठ अभिनेत्री का राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार कंगना रनौत को उनकी फिल्म ‘मणिकर्णिका’ और ‘पंगा’ के लिए प्रदान किया गया वहीं मनोज बाजपेयी को उनकी फिल्म’ भोसले और धनुष को उनकी फिल्म’ असुरन के लिए सर्वश्रेष्ठ अभनेता का राष्ट्रीय फिल्म पुररस्कार दिया गया. पद्मविभूषण रजनीकांत ने अपने दामाद धनुष के साथ समारोह में भाग लिया. उनकी पत्नी लता और उनकी बेटी ऐश्वर्या भी वहां मौजूद थी. अभिनेत्री सुश्री रनौत को अब तक तीन बार राष्ट्रीय फ़िल्म पुरस्कार से नवाजा जा चुका है.

सर्वश्रेष्ठ हिंदी फिल्म का पुरस्कार नितेश तिवारी द्वारा निर्देशित और स्वर्गीय सुशांत सिंह राजपूत अभिनीत फिल्म छिछोरे को प्राप्त हुआ है. नॉन फीचर फिल्म श्रेणी में सर्वश्रेष्ठ फिल्म का पुरस्कार फिल्म एन इंजीनियर्ड ड्रीम’ को मिला है. स्पेशल मेंशन पुरस्कार चार फिल्मों, ‘बिरियानी’, ‘जोना की पोरबा (असमिया), लता भगवान करे (मराठी), ‘पिकासो’ (मराठी) को मिला है. वर्ष 2019 की मोस्ट फिल्म फ्रेडली स्टेट’ श्रेणी में 13 राज्यों ने हिस्सा लिया था, ये पुरस्कार सिक्किम को मिला है. सर्वश्रेष्ठ आत्मकथात्मक फिल्म का पुरस्कार स्वाती पांडे द्वारा + निर्देशित ‘एलिफेंट डू रिमेम्बर’ ने जीता है. दक्षिण भारतीय फिल्मों के अभिनेता विजय सेतुपति को सर्वश्रेष्ठ सहायक अभिनेता की श्रेणी में उनकी तमिल फिल्म ‘सुपर डीलक्स’ के लिए प्रदान किया गया वहीं, हिंदी फिल्म’ द ताशकंद फाइल्स में प्रभावशाली किरदार निभाने के लिए सहायक अभिनेत्री की श्रेणी में पल्लवी जोशी को राष्ट्रीय पुरस्कार से नवाजा गया है.

close