Sunday, December 5, 2021

अब 3T अभियान टेलीकॉलिंग, ट्रैसिंग और ट्रैकिंग से सेकंड डोज लगाने की तैयारी; प्रदेश में अभी 89% पात्रों को लगा पहला डोज

Share on whatsapp
WhatsApp
Share on facebook
Facebook
Share on twitter
Twitter
Share on telegram
Telegram

[ad_1]

भोपाल

राज्य टीकाकरण अधिकारी डॉ. संतोष शुक्ला ने बताया कि प्रदेश में सोमवार से 3T अभियान से कोरोना से बचाने के लिए दूसरा डोज लगाने का अभियान शुरू होगा।

मध्य प्रदेश में कोरोना की तीसरी लहर की आशंका के बीच वैक्सीनेशन अभियान चल रहा है। प्रदेश में पात्र आबादी 89% यानी 4 करोड़ 89 लाख लोगों को पहला डोज लग गया है। प्रदेश में अभी 65 लाख लोगों का दूसरा डोज पेंडिंग है। इसमें 19 जून से 25 जून के बीच 35 लाख 25 हजार पहला डोज लगाने वाले लोग भी शामिल हैं। इस बीच 21 जून को वैक्सीनेशन महाअभियान के पहले दिन 17.42 लाख लोगों ने वैक्सीन का पहला डोज लगवाया था।

राज्य टीकाकरण अधिकारी डॉ. संतोष शुक्ला ने बताया कि प्रदेश में सोमवार से 3T अभियान से कोरोना से बचाने के लिए दूसरा डोज लगाने का अभियान शुरू होगा। अभी लोगों को वैक्सीन लगाने के लिए टेलीकॉलिंग की जा रही है। अब उनके मोबाइल नंबर से ट्रैसिंग और ट्रैकिंग कर वैक्सीन का दूसरा डोज लगाया जाएगा। इसमें आंगनवाड़ी और आशा कार्यकर्ताओं की मदद ली जाएगी। प्रदेश में अब तक 6 करोड़ 51 लाख लोगों को कुल डोज लगे हैं। इसमें पहला डोज 4 करोड़ 89 लाख और दूसरा डोज 1 करोड़ 62 लाख लोगों ने लगवाया है।

इसमें 18-44 वर्ष उम्र के 4 करोड़ 2 लाख 87 हजार लोगों ने वैक्सीन लगवाई है। 45-60 वर्ष उम्र के 1 करोड़ 56 लाख 32 हजार और 60 वर्ष से अधिक के 92 लाख 76 हजार 603 लोगाें ने वैक्सीन लगवाई है। बता दें कि प्रदेश में पात्र आबादी 5 करोड़ 49 लाख है। प्रदेश सरकार ने दिसंबर 2021 तक सेकंड डोज प्रदेश की पात्र आबादी को लगाने का लक्ष्य रखा है।

पहला डोज लगाने के बाद अपने दूसरा डोज लगाने की तारीख जानने के लिए देखें कैलेंडर

दूसरे डोज की पात्रता के लिए तारीख यहां देखें।

दूसरे डोज की पात्रता के लिए तारीख यहां देखें।

खबरें और भी हैं…

Source link

close