Sunday, December 5, 2021

Phonepe से मोबाइल रिचार्ज करना पड़ेगा महंगा, कंपनी ने शुरू किया ट्रांजेक्शन चार्ज

Share on whatsapp
WhatsApp
Share on facebook
Facebook
Share on twitter
Twitter
Share on telegram
Telegram

पचास रुपए से ज्यादा के रिचार्ज पर देनी होगी प्रोसेसिंग फीस

फोन पे यूजर्स को अब मोबाइल रिचार्ज करने पर प्रोसेसिंग फीस देनी होगी। वॉलमार्ट समूह की डिजिटल पेमेंट कंपनी फोनपे ने (यूनिफाइड पेमेंट इंटरफेस) ट्रांजैक्शन पर यह नियम लागू किया है। यूजर्स को प्रति ट्रांजैक्शन 50 रुपए से 100 रुपए के रिचार्ज पर 1 रुपए और 100 रुपए से ज्यादा के रिचार्ज पर 2 रुपए देने होंगे।

इस तरह फोन पे यूपीआई आधारित ट्रांजैक्शन पर चार्ज लेने वाली पहली डिजिटल पेमेंट ऐप बन गई है। कंपनी के प्रवक्ता ने बिल पेमेंट पर लगने वाले चार्ज को लेकर कहा कि हम इंडस्ट्री में ऐसा करने वाले पहले नहीं हैं। सभी डिजिटल पेमेंट प्लेटफॉर्म्स बिल पेमेंट्स को लेकर चार्ज वसूल रहे हैं। अब यह स्टैंडर्ड प्रैक्टिस हो गया है। अगर किसी बिल का भुगतान क्रेडिट कार्ड की मदद से किया जाता है तो हम इसके लिए प्रोसेसिंग फीस लेते हैं। दूसरे प्लेटफॉर्म पर इसे कन्वीनिएंस फीस के रूप में लिया जाता है।

कंपनी के प्रवक्ता ने बिल पेमेंट पर लगने वाले चार्ज को लेकर कहा कि हम इंडस्ट्री में ऐसा करने वाले पहले नहीं हैं। सभी डिजिटल पेमेंट प्लेटफॉर्म्स बिल पेमेंट्स को लेकर चार्ज वसूल रहे हैं। अब यह स्टैंडर्ड प्रैक्टिस हो गया है।

अगर किसी बिल का भुगतान क्रेडिट कार्ड की मदद से किया जाता है तो हम इसके लिए प्रोसेसिंग फीस लेते हैं। दूसरे प्लेटफॉर्म पर इसे कन्वीनिएंस फीस के रूप में लिया जाता है।

इंश्योरेंस भी बेचने की तैयारी

फोन पे को लाइफ इंश्योरेंस

और जनरल इंश्योरेंस प्रोडक्ट को बेचने के लिए इंश्योरेंस रेगुलेट से अप्रूवल भी मिल गया है। कंपनी अब आने वाले समय में अपने 30 करोड़ से ज्यादा यूजर्स को इंश्योरेंस से रिलेटेड सलाह दे सकती है। इससे फोन पे भारत में सभी इंश्योरेंस कंपनियों की पॉलिसी बेच सकेगी।

close