Sunday, December 5, 2021

Mp News:कॉलेजों में पढ़ने वाली सभी छात्राओं को मिलेगी 25 हजार की छात्रवृत्ति

Share on whatsapp
WhatsApp
Share on facebook
Facebook
Share on twitter
Twitter
Share on telegram
Telegram

मुख्यमंत्री का प्रदेश की लाइलियों को बड़ा तोहफा

राजधानी के मिंटो हाल में आयोजित लाड़ली लक्ष्मी उत्सव में गुरुवार को मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने बड़ा ऐलान किया है। उन्होंने कहा कि प्रदेश के कॉलेजों में पढ़ने वाली सभी बेटियों को 25 हजार रुपए की स्कॉलरशिप मिलेगी। डॉक्टरी और इंजीनियरिंग सहित मैनेजमेंट की पढ़ाई का खर्च भी सरकार उठाएगी। इस दौरान प्रदेश की 21 हजार से ज्यादा बालिकाओं के खाते में 6 करोड़ रुपए ट्रांसफर किए। सीएम ने लाड़ली लक्ष्मी पोर्टल शुरू करने के निर्देश दिए हैं। इसमें लाड़ली की पूरी जानकारी होगी। कार्यक्रम में हरियाणा की आनंदमूर्ति गुरु मां विशेष रूप से शामिल हुईं।

इस योजना का लाभ सरकारी के साथ ही निजी कॉलेज की छात्राओं को मिलेगा। एमबीबीएस, बीई, आईआईएम और आईआईटी जैसे कोर्स करने वाली लड़कियों की पूरी फीस अब सरकार भरेगी। मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि हम यह तय कर रहे हैं कि ऐसी बेटियां भी, जिन्हें कहीं कोई छोड़ गया था जिनका कोई नहीं है, उन्हें भी लाड़ली लक्ष्मी माना जाएगा और • योजना का लाभ दिया जाएगा। हमने लाड़ली लक्ष्मी कानून बना दिया है, जिसे कोई नहीं बदल पाएगा और बेटियों का भविष्य उज्जवल रहेगा।

यह भी किया जाएगा

करियर काउंसिलिंग, ट्रेनिंग, कोचिंग, जन्म के समय प्रमाण पत्र, पोषण और टीकाकरण का प्रबंधन किया जाएगा। बेटियों की अधिक संख्या वाले ग्राम पंचायतों को बेटी फ्रेंडली गांव घोषित किया जाएगा। प्राइवेट जॉब, प्रोफेशनल के अलावा उद्योग स्थापित करने वाली छात्राओं के लिए ट्रेनिंग से लेकर लोन तक की जिम्मेदारी सरकारी उठाएगी। इस

उत्सव में प्रत्येक आंगनबाड़ी एवं पंचायत भवनों में वर्चुअल माध्यम से बालिकाओं को जोड़ा गया।

मप्र में लाड़ली लक्ष्मी और उत्सव मनेगा

मुख्यमंत्री ने लाड़ली लक्ष्मी योजना 2.0 को और अधिक बेहतर बनाए जाने के के लिए जनता से सुझाव मांगे हैं। एक दिन तय कर लाडली लक्ष्मी उत्सव का आयोजन करने का निर्णय लिया गया है। लाड़ली लक्ष्मी योजना 2.0 को बेहतर बनाने के लिए सभी लड़कियों के कक्षा 12वीं उत्तीर्ण करने के बाद स्नातक और व्यावसायिक पाठ्यक्रम में दो वर्ष की पढ़ाई पूरी करने का खर्च सरकार उठाएंगी।

एक नजर में

अब तक योजना के अंतर्गत लगभग 9 हजार करोड़ का व्याय

किया जा चुका है।

» 40 लाख से अधिक बालिकाओं का पंजीयन हो चुका है।

» 6 लाख 62 हजार बालिकाओं को 185 करोड़ रुपए की • छात्रवृत्ति का वितरण

मिलेगा प्रशिक्षण

मुख्यमंत्री ने कहा महिला वित्त और विकास निगम व्यावसायिक प्रशिक्षण के लिए ऐसा पोर्टल तैयार करे, जिसके आधार पर लाडली लक्ष्मियों को उनकी अभिरूचि के अनुसार प्रशिक्षण मिले। जो लाड़ली लक्ष्मी स्नातक उपाधि या व्यावसायिक प्रशिक्षण नहीं लेना चाहती उन्हें कला प्रदर्शन के अनुरूप आवश्यक सहयोग दिया जाएगा। सरकारी विद्यालय में डिजिटल और फाइनेन्शियल लिटरेसी केंद्र स्थापित किया जाएगा। प्रत्येक लाडली लक्ष्मी को 18 वर्ष की आयु होने पर लर्निंग ड्राइविंग लाइसेंस के संबंध में प्रशिक्षण दिया जाएगा।

close