Monday, November 29, 2021

Rewa News:- कई अधिकारियों को मिली फटकार तो कुछ को नोटिस के निर्देश

Share on whatsapp
WhatsApp
Share on facebook
Facebook
Share on twitter
Twitter
Share on telegram
Telegram

रीवा 18 अक्टूबर, कलेक्ट्रेट रूप से निराकृत करें खाद्य विभाग, कार्यपालन यंत्री पीएचई हैण्डपंपों से पीएचई के विरुद्ध कार्यवाही के सभागार में आयोजित बैठक में कलेक्टर डॉ. इलैयाराजा टी ने विभाग तथा ऊर्जा विभाग की सीएम हेल्पलाइन प्रकरणों तथा शिकायतें बढ़ रही हैं. इनकी प्रदेश + टीएल पत्रों के निराकरण की स्तरीय रैंकिंग में भी लगातार गिरावट समीक्षा की.

उच्च शिक्षा विभाग, ग्रामीण विकास आयी है. संबंधित अधिकारी प्रकरणों कलेक्टर ने कहा कि सभी के निराकरण पर विशेष ध्यान दें.

अधिकारी सीएम हेल्पलाइन के कलेक्टर ने कहा कि जिन कार्यालयों प्रकरणों का संतुष्टिपूर्वक निराकरण को प्रदेश स्तर से जारी रैंकिंग में इस करें. अधिकारी आवेदक से स्वयं ससाह 20 से ऊपर स्थान मिला है उन चर्चा करके प्रकरणों का निराकरण सभी को कारण बताओ नोटिस जारी करायें विभाग में 300 दिन से करें नोटिस का संतोषजनक उत्तर न अधिक समय से लंबित सभी मिलने पर अनुशासनात्मक कार्यवाही प्रकरणों को तीन दिवस में अनिवार्य की जायेगी, कलेक्टर ने कहा कि कार्यपालन यंत्री पीएचई हैण्डपंपों से संबंधित शिकायतों का तत्परता से निराकरण करायें. अगले सप्ताह कार्यालय को रैंकिंग में पांच स्थानों तक लेकर आयें. सिंचाई शुरू होने पर भू जल स्तर घटने से हैण्डपंपों संबंधी शिकायतें बढ़ेंगी. इसके लिये अभी से तैयारी कर लें. कलेक्टर ने बैठक से बिना अनुमति अनुपस्थित रहने पर जिला योजना अधिकारी के विरूद्ध अनुशासनात्मक कार्यवाही के निर्देश दिये. कलेक्टर ने जल जीवन मिशन के निर्धारित लक्ष्यों तथा पूर्ति की जानकारी न देने पर कार्यपालन यंत्री पीएचई के विरूद्ध कार्यवाही के निर्देश दिये किसानों के पंजीयन की समय-सीमा समाप्त होने के बाद भी कुछ समितियों के पास किसानों के पंजीयन के आवेदन पत्र लंबित रहने पर कलेक्टर ने नाराजगी व्यक्त की. उन्होंने प्रभारी खाद्य अधिकारी को इस संबंध में नोटिस देने तथा पंजीयन की रिपोर्ट प्रस्तुत करने के निर्देश दिये. कलेक्टर ने नहरों की मरम्मत के निर्देश का पालन न करने पर अधीक्षण यंत्री जल संसाधन को कारण बताओ नोटिस देने के निर्देश दिये.

close