Monday, November 29, 2021

चुनावी सभाओं में गरजे शिवराज, कहा कमलनाथ जवाब दो, क्यों बंद की संबल योजना

Share on whatsapp
WhatsApp
Share on facebook
Facebook
Share on twitter
Twitter
Share on telegram
Telegram

Satna Newsसतना:जब कांग्रेस की सरकार थी तो उन्होंने क्या किया? किसान भाइयों बहनों को जोरो प्रतिशत ब्याज पर कर्ज देना बंद कर दिया। किसानों की सुविधाएं, समाप्त कर दीं। कर्ज माफी का वादा करके, कमलनाथ वल्लभ भवन में जाकर सो गए। आज व वोट मांगने आ रहे हैं, बताओ पहले कभी आए, थे क्या ? रविवार को सेमरवारा और भरजुना में आयोजित हुई चुनावी सभा में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान कुछ ऐसे ही अंदाज में नजर आए। रैगांव विधानसभा क्षेत्र के ग्राम भरजुना और सेमरवारा में विशाल जनसमूह को संबोधित कर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कांग्रेस पर सवालों की बौछार लगा दी। रविवार को उन्होंने उपचुनावी विधानसभा क्षेत्र रैंगाव में दो अलग नरामा बन अलग जनसभाओं को संबोधित किया। इस अवसर पर रैगांव विधानसभा क्षेत्र की प्रत्याशी प्रतिमा बागरी सहित जिला अध्यक्ष नरेंद्र त्रिपाठी, मंत्री बृजेंद्र प्रताप सिंह, श्री बिसाहूलाल सिंह, सांसद गणेश सिंह, नागौद विधायक नागेंद्र सिंह, प्रदेश उपाध्यक्ष योगेश ताम्रकार, प्रदेश महामंत्री श्री शरदेन्द्र तिवारी, प्रदेश नेता मंत्री श्री राजेश पाण्डेय, वरिष्ठ पुष्पराज बागरी, जिला संगठन के प्रभारी अभय प्रताप सिंह यादव, पुष्पेंद्र प्रताप सिंह, गगनेद्र प्रताप सिंह, बाबूलाल सिंह, धर्मेंद्र सिंह बिसेन धर्मेंद्र सिंह बराज, कामता पांडेय, बालकृष्ण शुक्ला बेटा, सचिन प्रताप सिंह धनंजय सिंह, धर्मेंद्र शुक्ला, ज्ञानेंद्र पांडेय, ओमप्रकाश लोधी समेत अन्य पदाधिकारी कार्यकर्ता उपस्थित रहे।

कांग्रेसियों को कन्या पूजन पर भी आपत्ति है

मुख्यमंत्री ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी की जन कल्याणकारी योजना बंद करने वाले, गरीबों का हक छीनने वाले कांग्रेसी अब वोट मांगने के लिए आ रहे हैं। कांग्रेसियों को तो कन्या पूजन पर भी आपत्ति है। मैं कन्या पूजन करता हूं तो मजाक उड़ाते हैं, कन्या पूजन कर रहा है मैं कन्या पूजन ना करूं तो क्या कांग्रेसियों की पूजन करू? मुख्यमंत्री ने कहा कि मेरे लिए मेरी बहने दुर्गा, लक्ष्मी, सरस्वती जैसी हैं, ये

कन्या देवियां हैं। यत्र नार्यस्तु पूज्यंते, रमते तत्र देवता कन्या पूजन का विरोध करने वाले, प्रदेश का भला नहीं कर सकते।

जवाब देना पड़ेगा कमलनाथ

मुख्यमंत्री ने कहा कि कमलनाथ दादा जवाब दो? मेरी बहनें बैठी हैं, मैंने संबल योजना बनाई और संबल योजना का मतलब हमने तय किया कि जितने गरीब बेटे-बेटियां हैं वे चाहे किसी भी वर्ग के हों, मेडिकल कॉलेज में अथवा अन्य उच्च शिक्षा में 8 लाख रुपए भी साल की फीस लगेगी तो वो फीस माता-पिता नहीं, मामा शिवराज सिंह चौहान भरवाएगा। भाजपा की सरकार भरवायेगी। कमलनाथ जी जवाब दो, जवाब देना पड़ेगा, वोट मांगने आए हो, तुमने क्यों मेरे बच्चों की फीस छीन ली ? तुमने क्यों संबल योजना बंद कर दी? जवाब देना पड़ेगा कमलनाथ। कर्जमाफी का सपना दिखाकर वादा क्यों पूरा नहीं किया ?

दिग्गी राज में प्रदेश तबाही की कगार पर था

उन्होंने ग्राम भरजूना और सेमरवारा में आयोजित जनसभा में कहा कि अब सतना हो या रीवा सड़कों का जाल है, एक जमाने में जब, दिग्गी राजा मुख्यमंत्री थे तब गड्ढों में सड़क थी या सड़क में गड्ढे थे पता ही नहीं चलता था। पूरे प्रदेश का सत्यानाश कर दिया था। हमने तो यह सोचा था कि अब तो 5 साल के लिए मामला खत्म लेकिन 15 महीने में उन्होंने ऐसा हाहाकार मचाया कि प्रदेश में सरकार बदल गई।

close